Shardiya Navratri 2019 : माँ का हाथी पर आकर नंगे पांव जाना, क्या संकेत है ? - dharam.tv

September 29, 20191min4920

(Shardiya Navratri 2019): आज हम बात करने जा रहे हैं शारदीय नवरात्री में माता किस वाहन (Vahan) पर सवार होकर आ रहीं है और किस वाहन से वापस लौटेंगी, माता का आगमन और प्रस्थान कितना शुभ होगा, 

 29 सितंबर 2019 रविवार को शारदीय नवरात्र शुरू होने जा रहे हैं , धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन माता कैलाश से धरती पर अपने मायके आएँगी। माता का आगमन कई मायनों में महत्वपूर्ण माना जाता है , माता का आगमन जहां भक्तों में धार्मिक उत्साह और आनंद ले कर आता है वहीं भविष्य में होने वाली कई घटनाओं का संकेत भी देता है। यही वजह है कि प्राचीन काल से मां दुर्गा के आगमन और विदाई को ज्योतिष शास्त्र में महत्वपूर्ण माना जाता रहा है। माता जिस वाहन से आतीं हैं और जिस वाहन से जाती हैं उससे पता चल जाता है कि आने वाला साल देश दुनिया और आपके लिए कैसा रहने वाला है.

इस बार माता का वाहन हाथी है. माता के इस वाहन पर आने का मतलब यह है कि यह साल वर्षा के लिहाज से अच्छा रहने वाला है। देश के कई भागों में अच्छी वर्षा होगी, इससे कृषि क्षेत्र में उन्नति होगी, किसानों की आय बढ़ेगी लेकिन जानमाल का नुकसान भी होगा। राजनीतिक क्षेत्र में उथल-पुथल की स्थिति रहेगी युद्ध के हालात बनेंगे बीते साल भी माता का आगमन हाथी पर हुआ था
देवी भागवत पुराण के एक श्लोक में बताया गया है कि माता का वाहन क्या होगा यह दिन के अनुसार तय होता है अगर नवरात्रि का आरंभ सोमवार या रविवार को हो रहा है तो माता का आगमन हाथी पर होगा शनिवार और मंगलवार को माता का आगमन होने पर उनका वाहन घोड़ा होता है गुरुवार और शुक्रवार को आगमन होने पर माता डोली में आती हैं जबकि बुधवार को नवरात्रा आरंभ होने पर माता का वाहन नाम होता है इस वर्ष रविवार को नवरात्र का आरंभ हो रहा है इसी दिन कलश स्थापना किया जाएगा इसलिए माता का वाहन आती है

Read Also सहस्त्ररूपा सर्व्यापी लक्ष्मी साधना विधि और महालक्ष्मी जी का दुर्लभ सिद्ध मंत्र

इसलिए माता आ रही हैं हाथी पर (Shardiya Navratri 2019)
इस बार माता का वाहन गज यानी हाथी है। माता के इस वाहन पर आने का मतलब है कि यह वर्ष वर्षा के लिहाज से अच्छा रहने वाला है। देश के कई भागों में अच्छी वर्षा होगी। इससे कृषि क्षेत्र में उन्नति होगी। किसानों की आय बढ़ेगी। लेकिन जान-माल का नुकसान भी होगा। राजनीतिक क्षेत्र में उथल-पुथल की स्थिति रहेगी। युद् के हालात बनेंगे। बीते साल भी माता का आगमन हाथी पर हुआ था।

नंगे पांव वापस जाएंगी माता (Shardiya Navratri 2019)
इस वर्ष माता बिना किसी वाहन के जाएंगी। देवीभाग्वत पुराण में बताया गया है कि ‘शशि सूर्य दिने यदि सा विजया महिषागमने रुज शोककरा, शनि भौमदिने यदि सा विजया चरणायुध यानि करी विकला। बुध शुक्र दिने यदि सा विजया गजवाहन गा शुभ वृष्टिकरा, सुरराजगुरौ यदि सा विजया नरवाहन गा शुभ सौख्य करा॥ इस श्लोक से स्पष्ट है कि इस वर्ष माता पैदल जा रही हैं। इसकी वजह यह है कि विजयादशमी मंगलवार को है। मंगल और शनिवार के दिन विदाई होने पर माता किसी भी वाहन पर नहीं जाती हैं।

Read Also:  नवरात्रि में नौ दिन कैसे करें नवदुर्गा साधना – नवदुर्गा साधना मन्त्र:

माता के नंगे पांव जाने का मतलब (Shardiya Navratri 2019)
देवी के पास किसी वाहन का ना होना और इनका नंगे पांव जाना अच्छा नहीं माना गया है। यह निराशा और व्याकुलता का सूचक है। अर्थव्यवस्था की रफ्तार सुस्त होगी। देवी के आने जाने की स्थिति का मिलाजुला प्रभाव यह है कि इस वर्ष लोगों में हताशा और चिंता का भाव बढ़ेगा। जन धन का नुकसान होगा।

Liked it? Take a second to support Arvind Sharma on Patreon!




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


About us

AMSG MEDIA INFOLINE is a knowledge centric organization, hosting one of its kinds of website “dharam.tv” we are providing premium online information services in field of Religious, Ritual, Spirituality, Festivals & Cultural Activities, Astrologers, Guru, Pandit and related information’s in line. Our motto is for spreading knowledge that is useful to everyone.


CONTACT US

CALL US ANYTIME


Liked it? Take a second to support Arvind Sharma on Patreon!