Navratri 2018: शारदीय नवरात्रि तिथि, घट स्थापना शुभ मुहूर्त और महत्व

October 5, 20181min1850

शरद ऋतु के आश्विन माह में आने के कारण इन्हें शारदीय नवरात्रों का नाम दिया गया है. नवरात्री में माँ भगवती के सभी 9 रूपों की पूजा भिन्न – भिन्न दिन की जाती है. इंग्लिश कैलेंडर के अनुसार यह नवरात्र सितम्बर या अक्टूबर में आते हैं. शारदीय नवरात्रों का समापन दशमी तिथि को विजय दशमी के रूप में माना कर किया जाता है.

नवरात्रि घट स्थापना मुहूर्त 2018

10 अक्टूबर को सुबह 06:18:40 से लेकर 10:11:37 तक (अवधि : 3 घंटे 52 मिनट) है।

वैसे नवरात्र के प्रारंभ से ही अच्छा वक्त शुरू हो जाता है इसलिए अगर जातक शुभ मुहूर्त में घट स्थापना नहीं कर पाता है तो वो पूरे दिन किसी भी वक्त कलश स्थापित कर सकता है क्योंकि मां दुर्गा कभी भी अपने भक्तों का बुरा नहीं करती हैं।

आइये जानते हैं इस बार किन किन तारीख को देवी माँ के किस स्वरप का व्रत रखा जायेगा

नवरात्र में मां के 9 रूपों की पूजा

10 अक्टूबर (बुधवार) को घटस्थापना व मां शैलपुत्री पूजा, मां ब्रह्मचारिणी पूजा (प्रथमा एंव द्वितिया)

11 अक्टूबर (बृहस्पतिवार )को माँ चंद्रघंटा पूजा

12 अक्टूबर (शुक्रवार ) को माँ कुष्मांडा पूजा

13  अक्टूबर (शनिवार) को माँ स्कंदमाता पूजा

14 अक्टूबरर (रविवार ) को पंचमी तिथि -सरस्वती आह्वाहन

15 अक्टूबर (सोमवार) को माँ कात्यायनी पूजा

16 अक्टूबर (मंगलवार ) को माँ कालरात्रि पूजा

17  अक्टूबर (बुधवार) को माँ महागौरी पूजा, दुर्गा अष्टमी , महा नवमी

18  अक्टूबर (बृहस्पतिवार) को नवरात्री पारण

19  अक्टूबर (शुक्रवार ) को दुर्गा विसर्जन, विजय दशमी