Tarot Card: नकारात्मक ऊर्जा को ख़त्म करना है तो अपनाएं ये उपाय

August 23, 20171min5710
phonto (21)

नमस्कार मैं हूं भावना शर्मा और आप सभी का स्वागत है हमारी ख़ास पेशकश भाग्योदय में  …….हम सभी रोज़ पूजा पाठ करते है मगर क्या हमने कभी इस बात पर ध्यान दिया है की पूजा में किये गए हर कार्य के पीछे क्या कारण होता है……हम रोज़ एक रिचुअल की तरह चीज़ों को दोहराते है मगर यदि हमें इनके पीछे का कारण पता हो तो हम इन्हें और भी श्रद्धा पूर्वक कर सकते है ……क्यों ज्योत जलना ज़रूरी है , क्यों हम गंगा जल छिडकते है , कपूर जलने का क्या महत्व है ………….

जीवन को और बेहतर बनाने के  जरुरी उपाय

गंगा जल पूजा में गंगा जल छिडकने से आस पास के वातावरण की शुद्धि होती है

दिया जलाना यानि अज्ञानता से ज्ञानता की रौशनी में बढ़ावा लाना ,दिए का मतलब होता है एहम , घी का मतलब होता है नकारात्मक व्यक्तित्व ( नेगेटिव आउटलुक) तो जब हम ज्योत जलाते है घी यानि हमारे अंदर का नकारात्मक व्यक्तित्व पिघलता है और हमारे एहम का नाश करता है

अगरबत्ती का मतलब है ईश्वर को अपने आस पास महसूस करना , इसकी सुगंध से हमारा तनाव काम होता है ,हमारे दिमाग की गति धीमी हो जाती है को पूजा में हमारा मन लगता है

आरती हमेशा हर पूजा के बाद आरती का नियम होता है ,,आरती का मतलब होता है ईश्वर को हमारा समर्पण , क्लोकवयस और एंटी क्लोकवयस घुमाते है यानि हम अपने कॉन्शियस और सुबकॉन्सियस दिमाग ईश्वर की ओर अपने आप को समर्पित करते है
सुपारी आपकी पूजा को पूर्ण कर देती और पान का पत्ता किसी भी तरह की नकारात्मक ऊर्जा को नाश् करता है ..इसलिए पूजा करते समय पान के पत्ते में सुपारी रखकर चढाने से आपके अंदर के विकार, नकारात्मक सोच ख़तम होती है और आपकी पूजा पूर्ण रूप से सफल होती है

तो इन सभी उपायों से मै उम्मीद करती हूँ आप अपने जीवन को और भी बेहतर बनाएंगे, नमस्कार





About us

AMSG MEDIA INFOLINE is a knowledge centric organization, hosting one of its kinds of website “dharam.tv” we are providing premium online information services in field of Religious, Ritual, Spirituality, Festivals & Cultural Activities, Astrologers, Guru, Pandit and related information’s in line. Our motto is for spreading knowledge that is useful to everyone.


CONTACT US

CALL US ANYTIME