25 मई : वटसावित्री व्रत करने से होगी कुल की प्राप्ति

May 20, 20171min6030

वटसावित्री व्रत (उ.भा.) एवं वटपूर्णिमा (द.भा.) I

वटसावित्री व्रत (उ.भा.) : २५ मई (ज्येष्ठ अमावस्या), गुरुवार
वटपूर्णिमा (द.भा.) : ८ जून (ज्येष्ठ शु.प. १४), गुरुवार

वटसावित्री व्रत कैसे करें ?
आरंभ में सौभाग्यवती स्त्री संकल्प करे कि मुझे एवं मेरे पति को आरोग्यसंपन्न, दीर्घायु प्राप्त हो ।
स्त्रियां वटवृक्ष की षोडशोपचार पूजा करें ।
पूजन में अभिषेक के उपरांत वटवृक्ष को सूत्रवेष्टन करे, अर्थात वटवृक्ष के तने के आसपास सूती धागे से घडी की सुइयों की दिशा में तीन बार लपेटें ।
पूजा के अंत में सावित्री सहित ब्रह्मदेव सेे प्रार्थना करते हैं, अखंड सौभाग्य प्राप्त हो, जन्म-जन्मांतर तक यही पति मिले तथा धनधान्य एवं कुल की वृद्धि होे ।वटसावित्री व्रत (उ.भा.) एवं वटपूर्णिमा (द.भा.)





About us

AMSG MEDIA INFOLINE is a knowledge centric organization, hosting one of its kinds of website “dharam.tv” we are providing premium online information services in field of Religious, Ritual, Spirituality, Festivals & Cultural Activities, Astrologers, Guru, Pandit and related information’s in line. Our motto is for spreading knowledge that is useful to everyone.


CONTACT US

CALL US ANYTIME